Breaking

Showing posts with label hanuman-ji-tips. Show all posts
Showing posts with label hanuman-ji-tips. Show all posts

Friday, 30 March 2018

March 30, 2018

हनुमान जयंती 2018: हनुमान जयंती पर यह पूजा का शुभ मुहूर्त

हनुमान जयंती पर यह पूजा का शुभ मुहूर्त

भगवान शिव के 11वें अवतार माने जाते हैं बजरंग बली। कहा जाता है कि इनके मात्र नाम लेने से कई प्रकार के कष्ट दूर हो जाते हैं। हर साल चैत्र शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा को हनुमान जयंती मनाई जाती है। इस साल यह 31 मार्च को आयोजित की जाएगी। ज्योतिषियों की मानें तो हनुमान जयंती 30 मार्च को शाम 07:35 से 31 मार्च को शाम 6 बजे तक है।

उदया तिथि होने के कारण 31 मार्च को ही यह पर्व मनाया जाएगा। इसलिए साम 6 बजे तक पूजा किया जाना शुभ रहेगा। सुबह 9 बजे से 11 बजे तक राहुकाल रहेगा। ऐसा भी कहा जाता है कि 31 मार्च की रात्रि को हनुमान जी की पूजा करने से विशेष फल मिलता है क्योंकि ऐसी मान्यता है कि पूर्णिमा की रात्रि में ही हनुमान जी का जन्म हुआ था।

हनुमान जयंती के दिन हनुमान चालीसा या सुन्दरकांड का पाठ करना अच्छा माना जाता है।

हनुमान जयंती 2018: हनुमान जयंती 31 मार्च को पूरे देश में मनाई जाएगी। चैत्र मास की पूर्णिमा को हनुमान जयंती मनाई जाती है। कहा जाता है भगवान बजरंग बली की पूजा में कई नियमों का पालन करना चाहिए। ऐसी मान्यता है कि चैत्र माह की पूर्णिमा को ही हनुमान जी का जन्म हुआ था। इस दिन हनुमान जी को प्रसन्न करने के लिए कई प्रकार के उपाय किए जाते हैं। यहां हम आपको बता रहे हैं कुछ पूजा और नियमों के बारे में जिनका बजरंग बली की पूजा में खास ध्यान रखना चाहिए।

हनुमान जयंती के दिन अगर व्रत रखते हैं तो इस दिन नमक का सेवन नहीं करना चाहिए। जो भी वस्‍तु दान दें विशेष रूप से मिठाई तो उस दिन स्‍वयं मीठे का सेवन ना करें।

अगर हनुमान जयंती पर व्रत रख रहे हैं तो आपको बता दें कि हनुमान जी के व्रत मीठे रखे जाते हैं। इसलिए इस दिन भी भूलकर भी नमक नहीं खाना चाहिए।

हनुमान जी की पूजा में काले रंग के कपड़े बिल्कुल नहीं पहनने चाहिए। हनुमान जी की पूजा लाल रंग या पीले रंग के कपड़े पहनकर करनी चाहिए।

शुद्धता का ध्यान: हनुमान जी की पूजा में साफ और शुद्धता का खास ध्यान रखना चाहिए। इस दिन अगर भगवान का प्रसाद बनाएं तो महाधोकर पवित्र मन से काम करना चाहिए। इसके अलावा ब्रह्मचर्य का पालन करना चाहिए।

इस आलेख में दी गई जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है।


Tuesday, 6 February 2018

February 06, 2018

सौभाग्य और ऐश्वर्य के लिए आजमाएं हनुमान जी के यह उपाय

shree-hanuman-ji-wallpaper

हनुमानजी के मंत्रों का प्रयोग किसी भी शुभ मुहूर्त में मंगलवार या शनिवार को किया जा सकता है। जो व्यक्ति नौकरी, व्यवसाय, करियर, प्यार, सेहत और प्रगति की मनोकामना रखता है, उसके लिए यह प्रयोग वरदान साबित हो सकता है। अत: जिस किसी को भी अपने जीवन में हर तरफ से सफलता पाना है, उसे यह उपाय अवश्‍य करना चाहिए। आइए जानें..

रोजगार-ऐश्वर्य प्राप्ति के लिए हनुमत् गायत्री मंत्र की यथाशक्ति 11-21-51 माला करें। देशकाल के अनुसार हवन करें। मंत्र सिद्ध हो जाएगा। पश्चात नित्य 1 माला जपें।

1. ॐ नम: शिवाय ॐ हं हनुमते श्री रामचन्द्राय नम:।
2. ॐ नमो भगवते आंजनेयाय महाबलाय स्वाहा।

3. ॐ नमो भगवते हनुमते महारुद्राय हुं फट स्वाहा

4. ॐ हं पवन नंदनाय स्वाहा
5. ॐ नमो हरिमर्कट मर्कटाय स्वाहा।
6. ॐ ह्रीं आंजेनाय विद्महे, पवनपुत्राय
धीमहि तन्नो: हनुमान प्रचोद्यात्।।

पैसों की तंगी से बचने का उपाय

यदि कोई व्यक्ति पैसों की तंगी का सामना कर रहा है तो उसे प्रति मंगलवार और शनिवार को पीपल के 11 पत्तों का यह उपाय अपनाना चाहिए।

इसके तहत सप्ताह के प्रति मंगलवार और शनिवार को ब्रह्म मुहूर्त में उठें। इसके बाद नित्य कर्मों से निवृत्त होकर किसी पीपल के पेड़ से 11 पत्ते तोड़ लें। ध्यान रखें पत्ते पूरे होने चाहिए, कहीं से टूटे या खंडित नहीं होने चाहिए। इन 11 पत्तों पर स्वच्छ जल में कुमकुम या अष्टगंध या चंदन मिलाकर इससे श्रीराम का नाम लिखें। 

नाम लिखते समय हनुमान चालीसा का पाठ करें

जब सभी पत्तों पर श्रीराम नाम लिख लें, उसके बाद राम नाम लिखे हुए इन पत्तों की एक माला बनाएं। इस माला को किसी भी हनुमानजी के मंदिर जाकर वहां बजरंगबली को अर्पित करें। इस प्रकार यह उपाय करते रहें। कुछ समय में सकारात्मक परिणाम प्राप्त होंगे। ध्यान रखें उपाय करने वाला भक्त किसी भी प्रकार के अधार्मिक कार्य न करें। अन्यथा इस उपाय का प्रभाव निष्फल हो जाएगा। उचित लाभ प्राप्त नहीं हो सकेगा। साथ ही अपने कार्य और कर्तव्य के प्रति ईमानदार रहें।